स्कूटी का नाम भला कौन नहीं जानता है। वर्तमान समय में एक से बढ़कर एक ऑप्शन मार्केट में उपलब्ध है, लेकिन कभी एक समय था जब केवल एक ही ब्रांड की तूती बोलती थी और वह थी ‘टीवीएस स्कूटी पेप’ (TVS Scooty Pep).

जी हां! इसके पहले भारतीय महिलाएं राइडिंग में कुछ खास रुचि नहीं रखती थीं, लेकिन स्कूटी पेप ने उनकी सोच बदलने का बड़ा कारनामा कर दिखाया था। वह चाहे घरेलू महिला हो या कामकाजी या फिर कॉलेज जाने वाली लड़कियां इन सभी ने स्कूटी का स्वाद भरपूर चखा है।

Pic: motorbeam

पर इसकी सफलता के पीछे क्या कहानी है? आखिर क्यों स्कूटी इतनी लोकप्रिय हुई… यह जानना दिलचस्प रहेगा!

इसकी पहली टेस्ट ड्राइव 1993 में ही की गई थी और यह भी कहा जाता है कि शुरुआत में जब स्कूटी लांच हुई थी तब सिर्फ महिलाओं के ऊपर कंपनी का फोकस नहीं था, लेकिन लांच के 2 साल के भीतर ही इस प्रोडक्ट को महिलाओं ने काफी हद तक पसंद किया।

फिर 1996 में टीवीएस द्वारा महिलाओं के लिए ही किक से स्टार्ट होने वाली स्कूटी ईएस (TVS Scooty ES) लांच हुई। कंपनी के इस लांच को बड़ा रिस्क माना गया, क्योंकि इंडियन मार्केट अभी राइडिंग में मेल डोमिनेटेड मार्केट था। पर लोगों की आशंकाए गलत निकलीं और महिलाओं ने इस प्रोडक्ट को हाथों-हाथ लिया।

Pic: hindi.khoobsurati

इसके बाद टाइम -टाइम पर इस कंपनी के प्रोडक्ट में बदलाव किए जाते रहे और 2003 में किक और सेल्फ स्टार्ट स्कूटी पेप मार्केट में उतारी गयी। इसके बाद 2005 में स्कूटी पेप प्लस, 2007 में स्कूटी टीन्ज (TVS SCOOTY TEENZ) इत्यादि मार्केट में उतारे गए।

आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि अलग-अलग समय में स्कूटी पेप+ 99 कलर्स में लांच की गई थी। जाहिर तौर पर महिलाओं की पसंद का पूरा ध्यान रखा गया था।

टीवीएस ने केवल स्कूटी ही लांच नहीं किया था, बल्कि लड़कियों और औरतों को ड्राइविंग की ट्रेनिंग देने के लिए ड्राइविंग लर्निंग सेंटर भी खोला। यहाँ बेहद कम पैसे में कई महिलाओं को प्रशिक्षण दिया गया।

Pic: cartoq

वैसे भी स्कूटी की लोकप्रियता में बॉलीवुड फिल्मों का भी खासा योगदान है। एक तो अनुष्का शर्मा, प्रीति जिंटा इत्यादि ने इसका सीधा विज्ञापन किया तो कई फिल्मों में इसके प्रयोग ने इसके प्रचार में प्रमुख भूमिका निभाई। हम बात चाहे आमिर खान की गजनी की करें जिसमें आसीन स्कूटी पर बैठकर घूमती नजर आई हों, या फिर चांस पे डांस की जेनेलिया डिसूजा हो… इन सभी ने स्कूटी का इस्तेमाल फिल्मों में किया।

कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा कि स्कूटी की वजह से इंडियन मार्केट में टीवीएस ने अपना ब्रांड हमेशा के लिए स्थापित कर लिया है। वर्तमान में यह तीसरी सबसे बड़ी टू-व्हीलर कंपनी मानी जाती है।

आपको स्कूटी की कहानी कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में अपने विचार दर्ज करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here