आप अगर पुरानी बाइक खरीदने जा रहे हैं तो आपको निम्नलिखित बातों पर विशेष ध्यान रखना चाहिए।

सबसे पहले बाइक की स्थिति, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, विक्रेता से अच्छी तरह से कागजातों की जांच करें। कागज सही हैं या नहीं, इस बात की पूरी जानकारी या यकीन होने पर ही वाहन खरीदें। इसके अलावा भी आपको कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए।

इससे आपको आगे चलकर मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ेगा। हम आज आपको बता रहे हैं कि सेकेंड हैंड बाइक खरीदते समय क्या -क्या सावधानियां बरतनी चाहिए

1. आप जिस व्यक्ति से बाइक खरीदने जा रहे हैं, पहले आप बाइक की RC लें, उसके बाद रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में लिखी डिटेल तथा बाइक की डिटेल को अच्छी तरह से मिलाएं। यह ध्यान दें कि जो RC में ईंजन नंबर और चेसिस नंबर है वही नंबर बॉडी और ईंजन पर होना आवश्यक है। इसके अलावा रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में बाइक मालिक का नाम, टैक्स पेमेंट की स्थिति आदि भी जानना जरुरी है।

यदि RC बुक में किसी बैंक की मुहर लगी है तो समझ लीजिए उन्होंने बाइक खरीदने के लिए लोन लिया था। इन सभी बातों पर आपको ध्यान देना बहुत जरुरी है।

Pic: ultimatemotorcycling

2. पुरानी बाइक को खरीदने से पहले आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि उस यूज्ड वाहन का बीमा पॉलिसी है या नही, क्योंकि पॉलिसी नहीं होने के कारण आपके वाहन का RTO ऑफिस में रजिस्ट्रेशन नहीं होगा। इसलिए आप जब भी यूज्ड वाहन लें, गाड़ी के मालिक से बीमा पॉलिसी लेना न भूलें, जिससे वाहन को आपके नाम करने में आसानी होगी।

3. ध्यान रहे जो फॉर्म 28 है, वह अनापत्ति प्रमाण पत्र यानी कि (एन.ओ.सी) है। इसमें जो व्यक्ति वाहन को खरीदकर दूसरे राज्य में ले जाना चाहता है उसके लिए यह फॉर्म का होना बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस फॉर्म की तीन कॉपी होनी चाहिए।

वाहन को उसी राज्य में रखने के लिए इस फॉर्म की आवश्यकता नही पड़ती है। जो फॉर्म 29 है, इसकी 2 कॉपी अपने पास रखनी चाहिए। यह वाहन ट्रांसफर फॉर्म है। फॉर्म 30 की 1 कॉपी होनी चाहिए।

4. पुरानी बाइक खरीदने वाले व्यक्ति को इन बातों पर ख्याल रखना चाहिए कि बाइक बेचने वाले मालिक से रोड टैक्स कार्ड मांग ले, क्योंकि वाहन रोड टैक्स तथा साथ ही रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर करते वक्त रोड टैक्स कार्ड को आर.टी.ओ ऑफिस में जमा कराना होता है।

Pic: bikebound

5. जिसके पास से आप पुरानी बाइक खरीद रहे हैं, चाहे वह अधिक पुरानी हो या उस बाइक को छह महीने ही हुए हों, लेकिन बाइक के साथ नियंत्रित प्रदूषण (PUC)का सर्टिफिकेट का भी होना आवश्यक है। अगर आपको पुरानी बाइक के साथ PUCका सर्टिफिकेट नहीं मिला है तो आपको तुरंत इसे प्राप्त करना चाहिए।

6. अगर आप पुरानी बाइक को खरीदना चाहते हैं तो आपके पास पासपोर्ट आकार के दो फोटो तथा पते का सबूत भी होना जरुरी है। आप सेकेंड हैंड बाइक के मालिक से सेल्स रसीद भी लेना न भूलें।

आपके पास इन सभी के दस्तावेज होना बहुत आवश्यक है, क्योंकि बाद में होने वाले किसी भी तरह के विवाद से इससे बचे रहेंगे। साथ ही आपको सारे दस्तावेज रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर के लिए RTO में जमा करना पड़ता है जिससे बाइक की RC में आपका नाम का ट्रांसफर हो जायेगा।

ऊपर जितनी भी जानकारी आपको दी गई है यह एक आम सूचना है, चूंकि हर राज्य में पुरानी बाइक को खरीदना तथा बेचने के नियम में थोड़ा बहुत अंतर हो सकता है, इसलिए जानकारी को अपडेट करना न भूलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here