अगर आप गाड़ी चला लेते हैं या सीखना चाहते हैं तो ऐसे में आपके लिए कुछ नियमों का पालन करना आवश्यक है। अच्छे वाहन चालक बनने में बहुत ऐसे नियम होते हैं, जिनको नियमित फॉलो करना पड़ता है। इसके बाद ही आप एक कुशल एवं अच्छे ड्राइवर कहलाएंगे। ऐसे में एक अच्छे एवं कुशल ड्राइविंग से सम्‍बंधित जानकारी प्राप्त करना बेहद आवश्यक है तो आइये जानते हैं कि एक अच्छा ड्राइवर कैसे बनें?

गाड़ी के फंक्‍शन की पूरी जानकारी

जिस वाहन को आप चलाने जा रहे हैं, ड्राइव करने से पहले उस कार के फंक्‍शन को जानना बेहद जरुरी है। जैसे: क्‍लच, गियर एडजस्‍टमेंट तथा ब्रेक आदि के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहिए ।

Pic: cars

सीटिंग पोजिशन आरामदायक हो

ड्राइविंग करते समय हमेशा सीटिंग पोजिशन सुविधाजनक होनी चाहिए। साथ ही ड्राइवर सीट पर बैठने से पहले आराम से बैठें और सीट बेल्ट जरूर लगाएं। गाड़ी चलाते समय आपके घुटने, पीठ और कंधे किसी प्रकार से असुविधाजनक नहीं होने चाहिए।

एकाग्रता

एक अच्छे एवं कुशल ड्राइवर बनने के लिए एकाग्र होना बेहद जरूरी है। ड्राइविंग करते समय आपका कार के रियर व्‍यू मिरर को अपने मुताबिक एडजस्ट करना चाहिए ताकि आपको वाहन चलाते वक्त मदद मिले।

स्‍टीरिंग कंट्रोल करना

आप हमेशा ध्यान दें कि स्‍टीरिंग को टाइट न पकड़े पकड़ें। स्‍टीरिंग व्‍हील को पूरा कंट्रोल करना एक कुशल एवं अच्छे ड्राइवर के लिए बेहद जरूरी है। साथ ही स्‍टीरिंग को अच्छे से पकड़ना अपने आप में एक कला है और इस दरमियाँ आप आसानी से स्टीरिंग को घुमा पा रहे हैं, यह आवश्यक है। अनावश्यक स्टीरिंग को न घुमाएं, अन्यथा गाड़ी सड़क पर लहराएगी, जिससे दुर्घटना होने के चांसेज उत्पन्न हो जायेंगे।

Pic: driversedguru

इंडिकेटर देना आवश्यक है

कहीं भी मुड़ने से पहले आगे तथा पीछे से आ रहे वाहनों को टर्न इंडिकेटर से संकेत करना बेहद जरूरी होता है। यदि कभी अचानक आपका इंडिकेटर व ब्रेकलाइट काम नहीं करता है तो इस स्थिति में आपको हाथों का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे एक्‍सीडेंट होने से बचा जा सकता है।

स्‍पीड़ ज्यादा न करें

आप अपने गाड़ी की रफ्तार को उतना ही रखें जिससे कार हमेशा कंट्रोल में हो। अगर आप ज्यादा स्‍पीड में कार चलाते हैं तो ऐसा करना बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। याद रखें, अधिकांश दुर्घटनाएं ओवर स्पीडिंग के कारण ही होती हैं।

हॉर्न का इस्तेमाल

आप चाहें ड्राइविंग सीख रहें हो या पुराने ड्राइवर हैं तो बिना किसी वजह से हॉर्न का प्रयोग न करें क्योंकि वाहन में हॉर्न अलर्ट करने के लिए लगाया जाता है न कि परेशान करने के लिए। खासकर हॉस्पिटल और रेजिडेंशियल एरिया में हॉर्न प्रतिबंधित होता है, इसलिए इसका ख़ास ध्यान रखें।

Pic: defensivedriving

हमेशा कार को डिस्‍टेंस पर रखें

एक अच्छा एवं कुशल ड्राइवर के लिए ड्राइविंग करते समय हर छोटी -छोटी बातों का ख्याल रखना चाहिए, जैसे: जो गाड़ी आप चला रहे हैं, उस समय आप दूसरे वाहनों से एक दुरी बनाकर रखें, क्योंकि कभी भी आगे वाले वाहन के एकदम रूकने पर आपके वाहन से टक्कर हो सकती है।

ड्राइव करते समय दिमाग को शांत रखें

वाहन चलाते समय आप अपने दिमाग को हमेशा शांत रखें तथा तनाव, डिप्रेशन मुक्‍त होकर ही वाहन चलायें। मूड ख़राब होने पर ड्राइव करने से बचना चाहिए। इसके साथ ही वाहन की गति तेज होने पर अचानक से लोअर गियर या रिवर्स गियर का प्रयोग न करें।

आप अगर ड्राइविंग करते रहे हैं तो अपना अनुभव कमेन्ट-बॉक्स में शेयर करें ताकि उससे अन्य लोग लाभान्वित हो सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here